Thursday, September 26, 2013

Look Around ! You'll Find More Solutions Than The Problems - Management Funda - N Raghuraman - 26th September 2013

इर्द-गिर्द देखिए समस्या से ज्यादा समाधान नजर आएंगे

 मैनेजमेंट फंडा - एन. रघुरामन


इस हफ्ते मंगलवार को दिल्ली के रोहिणी इलाके के डिप्टी हेल्थ ऑफिसर और एक मलेरिया इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया गया। क्योंकि उनके क्षेत्र में 11 लोगों की मौत डेंगू की वजह से हो गई थी। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री एके वालिया ने दिल्ली और आसपास के तीन नगर निगमों को इस मामले में पूरी तरह असफल बताया। इस साल अब तक राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में डेंगू के 1,395 मामले सामने आ चुके हैं। ऐसे हालात कुछ साल पहले अफ्रीकी शहरों में थे। हालांकि वहां बीमारी दूसरी थी, लेकिन उन्होंने उस स्थिति का बहुत अच्छे ढंग से सामना किया। अफ्रीका में बड़ी संख्या में बच्चों की मौत डायरिया से हो रही थी। जरूरतमंदों तक डायरिया की दवा कैसे पहुंचे, यह एक समस्या थी। 
 Source: Management Funda By N Raghuraman - Dainik Bhaskar 26th September 2013

ब्रिटिश सामाजिक उद्यमी सिमॉन बेरी ने इसका तरीका निकाला। उन्होंने सोचा कि गांव हो या शहर हर दुकान पर कोला ड्रिंक की बोतलें जरूर दिख जाती हैं। क्यों न उन्हीं बोतलों के जरिए डायरिया की दवा दूर-दराज के इलाकों में पहुंचा दी जाए। और हुआ भी वही। डायरिया की दवा को कोला ड्रिंक की बोतलों के साथ रख कर जरूरतमंदों तक पहुंचाया गया। इस किट को नाम दिया गया ‘किट यामोयो’ यानी ‘जिंदगी की किट।’ सिमॉन ने खुद से यही सवाल किया था कि अगर कोला की बोतलें देश के सुदूर उत्तर-पूर्व जाम्बिया तक पहुंच सकती हैं तो डायरिया की दवा क्यों नहीं? उन्होंने सवाल किया तो जवाब मिला। हालांकि उन्हें अपना आइडिया अमल में लाने के लिए कई साल तक इंतजार करना पड़ा। उन्होंने 1980 में इस बारे में सोचा था, लेकिन वे इसे 2008 में लागू कर सके। बहुराष्ट्रीय कंपनियों को पांच साल पहले दुनिया से गरीबी उन्मूलन के अभियान में शामिल किया गया था। तभी सिमॉन और उनकी 56 वर्षीय पत्नी जेन को लगा कि अब यह अपने आइडिया को हकीकत में बदलने का सही वक्त है। उन्होंने सबसे पहले अपने आइडिया के लिए समर्थन जुटाने के मकसद से फेसबुक पर अभियान चलाया। उन्होंने ‘किट यामोयो’ का आइडिया सामने रखा। यह किट प्लास्टिक की थैली या पाउचनुमा थी। इसमें डायरिया की दवा भरी थी। जेन ने इसे इस तरह डिजाइन किया था कि उस पाउच या थैली को कोला बोतलों केबीच के खांचे में आसानी से फंसाया जा सके। इससे बोतलों के बीच की जगह का बेहतर इस्तेमाल हो गया और दवा भी आसानी से दूर-दराज के इलाकों में पहुंचा दी गई। स्थानीय थोक दुकानदारों की भी इससे कमाई बढ़ गई।

लोगों को भी यह आइडिया पसंद आया। बीबीसी ने भी प्रमोशन किया। तब कहीं जाकर कोका-कोला कंपनी इस काम में सहयोग देने के लिए राजी हुई। फिर यह राष्ट्रीय अभियान चलाया जा सका। जाम्बिया में डायरिया की वजह से हर रोज 40 बच्चों की मौत हो रही है। बच्चों की मौत की यह तीसरी सबसे बड़ी वजह है। तिस पर ये कि स्वास्थ्य सुविधाएं भी ठीक तरह से मुहैया नहीं। देश में छोटे-छोटे क्लीनिक हैं जिनमें एकाध क्लीनिकल ऑफिसर ही होता है। उस पर एक-दो नहीं, बल्कि 10,000 तक गांवों की जिम्मेदारी होती है। और क्लीनिक ऐसे कि जो एक कमरे में चल रहे हैं। जिसमें न तो पानी का कनेक्शन है न संचार की सुविधा। सिर्फ क्लीनिकल ऑफिसर का मोबाइल ही एकमात्र सहारा हैं। दवाएं भी सही समय पर नहीं मिल पातीं। इन हालात में जाम्बिया जैसे देशों की महिलाओं के सामने बच्चों को मौत की गोद में जाते देखने के अलावा कोई चारा नहीं था। लेकिन अब ‘किट यामोयो’ इन इलाकों के लिए वरदान साबित हो रही है। बदतर तस्वीर बेहतर हो रही है।

फंडा यह है कि..

जब तक हम धरती पर हैं, समस्याएं रहेंगी। लेकिन ये हमारी जिम्मेदारी है कि हम अपने आसपास उनके समाधान तलाशें। जो मिसालें मौजूद हैं उनसे सीखें। उनमें अपनी जरूरत के हिसाब से कुछ सुधार करें और अपनी समस्याओं को हल करें।
 



In this post of Management Funda, N Raghuraman reminds us that the solutions to the problems are around us. What is needed is actually the will to find solutions.

He tells us by citing an example of how an Deputy Health Officer and a Malaria Inspector were suspended by the Health Department - Government of Delhi as 11 died in Rohini due to Dengue - A disease caused by Mosquitoes.

The Health Minister A K Waliya of Govt of Delhi has already expressed his concern with the way which Municipal Corporation of Delhi has handled the Problem of Dengue.

N Raghuraman then gives us the example of how African Countries have handled the problem of deaths caused by diarrhea.

The solution to the problem was found by an British Social Entrepreneur Simon Berry. He suppliied the life Saving Kit - KIT YAMOYO along with Cola Bottles which reached to the farthest nook and corner of African Cities, Towns and Villages.

This wonder kit has done wonders for the remote African countries and are now reaping the benefits of the same.

To Know more about KIT YAMOYO click here.  
        
Source: Management Funda By N Raghuraman - Dainik Bhaskar 26th September 2013