Thursday, February 6, 2014

Speed Up Your Life By Information Technology - Management Funda - N Raghuraman - 6th February 2014

इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी से जिंदगी को दें नई रफ्तार

 

मैनेजमेंट फंडा - एन. रघुरामन


पहली कहानी : 


भारत में हर साल 10 लाख लोगों को कैंसर होता है। आईसीआईसीआई जैसी निजी इंश्योरेंस कंपनियों के मुताबिक कैंसर के कारण लिए गए तमाम मेडिक्लेम के दावों में बीते एक साल में 33 फीसदी तक की बढ़ोतरी हुई है। इस आंकड़े का सबसे अच्छा पहलू यह है कि कई लोगों ने कैंसर से लड़ाई में जीत हासिल की। कैंसर की सबसे बड़ी वजह तंबाकू है, लेकिन जो लोग तंबाकू का सेवन करते हैं वे कैंसर की हाई रिस्क वाली श्रेणी में आते हैं। उनको अक्सर मालूम नहीं होता कि कैंसर उनके शरीर में बढ़ता रहता है और अचानक से सामने आ जाता है।

Source: Speed Up Your Life By Information Technology - Management Funda By N Raghuraman - Dainik Bhaskar 6th February 2014



एक समाचार पत्र ने गुजरात का उदाहरण पेश करते हुए रिपोर्ट दी कि राज्य के छह करोड़ युवाओं में से डेढ़ करोड़ युवा तंबाकू का सेवन करते हैं। इनमें से 50 लाख लोग ऐसे हैं, जो हाई रिस्क श्रेणी में आते हैं। छह साल के क्लीनिकल डेटा के मुताबिक अकेले गुजरात में सिर और गर्दन के कैंसर के मामले 89 फीसदी तक बढ़े हैं। 40 से कम उम्र वाले लोगों में कैंसर से होने वाली बीमारियां 300 फीसदी तक बढ़ी है। तंबाकू की लत के शिकार लोग चिंतित होने के बावजूद अपनी मेडिकल जांच कराने में घबराते हैं, वहीं कैंसर विशेषज्ञों के मुताबिक ज्यादातर लोग कम उम्र में कैंसर के लक्षणों और संकेतों को पहचान नहीं पाते और जब तक पहचानते हैं, तब तक चिकित्सा के लिहाज से काफी देर हो चुकी होती है।

लिहाजा अहमदाबाद के एचसीजी कैंसर सेंटर ने इस बीमारी के प्रति जागरूकता के लिए एक फ्री मोबाइल एप बनाया है। दो महीनों की कड़ी रिसर्च के बाद बड़ी मेहनत से इस एप को तैयार किया गया है। इस कमाल के एप को इस्तेमाल करने वाले यूजर विभिन्न तरह के कैंसर और उनके लक्षणों के बारे में आसानी से जानकारी पा सकेंगे। किसी तरह के लक्षण मिलने की स्थिति में लोग वक्त रहते कैंसर विशेषज्ञ के पास इलाज के लिए जा सकेंगे। फिलहाल इस एप में मौजूद जानकारी अंग्रेजी भाषा में है, लेकिन सेंटर की योजना जल्द ही गुजराती भाषा में भी यह जानकारी उपलब्ध कराने की है। हालांकि इस सेंटर ने एक और व्यवस्था भी लागू की हुई है। कोई भी व्यक्ति ई-मेल या चैटिंग के जरिए कैंसर के बारे में जानकारी पा सकता है।

दूसरी कहानी: 


कर्नाटक में वॉट्स एप पर फारमर्स फ्रेंड्स के नाम से एक ग्रुप तैयार किया गया है। इस प्रदेश को आईटी स्टेट का दर्जा दिया जाता है। यहां के राज्य कृषि कमिश्नर ने 78 लाख किसान परिवारों को फेसबुक और वॉट्स एप से जोड़ा हुआ है। इस ग्रुप से जुड़े किसानों को इन प्लेटफॉर्मों पर कृषि से जुड़ी सभी जानकारियां मुहैया कराई जाती हैं। इसमें कृषि विभाग की योजनाएं, नई कृषि स्कीमें और बुआई- कटाई से संबंधित जानकारियां शामिल हैं। जानकारियों को वीडियो और फोटोग्राफ्स के जरिए भेजा जाता है। इससे राज्य के कोने-कोने में किसानों को हर अपडेट मिलते रहते हैं। इस ग्रुप में कमिश्नर व निदेशक जैसे बड़े अधिकारियों के अलावा फील्ड स्टाफ के लोग भी जुड़े हुए हैं। हालांकि इस कवायद में क्षेत्रीय भाषा को लेकर थोड़ी सी अड़चन आती हैं, लेकिन अधिकारियों का कहना है कि वे इस समस्या का हल ढूंढने में लगे हुए हैं।

फंडा यह है कि...

समस्या कितनी ही बड़ी या गंभीर क्यों न हो सही प्लेटफॉर्म और तकनीक के मेल से इस पर नियंत्रण पाया जा सकता है। बस, इसके लिए जरूरत है कि इनोवेशन से जुड़े लोग ऐसे जनमुद्दों पर अपनी पकड़ बनाए रखें। 

 

Speed Up Your Life By Information Technology - Management Funda - N Raghuraman

 



































Source: Speed Up Your Life By Information Technology - Management Funda By N Raghuraman - Dainik Bhaskar 6th February 2014