Sunday, January 5, 2014

Set Your Goals So That You Can Chase It - Management Funda - N Raghuraman - 5th January 2014

लक्ष्य तय कर उसका पीछा करना ही होगा

मैनेजमेंट फंडा - एन. रघुरामन 


अमेरिका के मेम्फिस में रहने वाले चाल्र्स कैमंस विल्सन और डोरोथी ली 1951 में अपने बच्चों के साथ सड़क के रास्ते छुट्टियां बिताने वॉशिंगटन डीसी गए थे। उस समय सड़क किनारे मॉटेल्स में सुविधाएं अच्छी नहीं थीं। इससे वे निराश हो गए। मॉटेल्स कम नहीं थे, लेकिन शुल्क, सुविधाओं, नियम और बच्चों के अतिरिक्त बिस्तर के शुल्क में अंतर था। विल्सन के पांच बच्चे थे। इससे उनकी जेब पर अतिरिक्त दबाव पड़ा। पूरी ट्रिप में वे पत्नी से कहते रहे कि छुट्टियों से लौटते ही वे फैमिली होटल की चेन शुरू करेंगे। पत्नी को लगा कि बिल का भुगतान करते समय पुरुष शिकायतें करते ही हैं। उन्होंने इसे ज्यादा महत्व नहीं दिया और भूल गईं। लेकिन विल्सन संकल्प पर डटे रहे। बार-बार कहते कि ऐसे होटल शुरू करेंगे जो क्वालिटी, रेट और सुविधाओं के लिहाज से विश्वसनीय हों। पत्नी ने एक बार व्यंग्यात्मक अंदाज में पूछ लिया- 'आखिर कितने होटल बनाएंगे आप?' विल्सन ने मुस्कराते हुए जवाब दिया-'400'। पत्नी हंस पड़ी। उन्हें लगा कि हर बच्चे के बिस्तर के लिए 2 डॉलर हर रात चुकाने से विल्सन गुस्से में हैं। विल्सन घर लौटे तो सबसे पहले उन्होंने होटल डिजाइन करने के लिए क्राफ्ट्समैन को बुलाया। उन्हें होटल में एक स्विमिंग पूल जरूर चाहिए था। उन्होंने 1952 में अपने गृहनगर मेम्फिस के बाहरी इलाके में पहला होटल खोला। उन्हें लगा कि एक होटल बनाने में एक साल लगा तो 400 होटल नहीं बना सकेंगे। उन्होंने एक साथ कई जगहों पर काम शुरू कर दिया। 

Source: Set Your Goals So That You Can Chase It - Management Funda By N Raghuraman - Dainik Bhaskar 5th January 2014

1958 में उनके 50 होटल थे और 1959 में 100 होटल। उन्हें समझ आ गया था कि 400 होटल का लक्ष्य पूरा करने में काफी समय लग जाएगा। इस वजह से पूरे अमेरिका में अपने हॉलीडे इन की फ्रेंचाइजी देना शुरू कर दिया। पांच वर्षों में (1964) वे 500 के जादुई आंकड़े तक पहुंच गए। 1968 में सेन एंटोनियो, टैक्सास में 1,000वां होटल खुला। चेन ने मॉटेल मार्केट में अपनी खास जगह बना ली थी। नए तरह का रिजर्वेशन सिस्टम लोगों को पसंद आया। अन्य पारंपरिक होटलों पर वित्तीय दबाव पड़ा। रमांडा इन, क्वालिटी इन, हावर्ड जॉनसन्स और बेस्ट वेस्टर्न जैसे प्रतिस्पर्धियों के लिए मानक भी तय किए। 1972 तक विल्सन इस स्थिति में पहुंच गए थे कि हर 72 घंटे में दुनिया के किसी न किसी कोने में उनका होटल खुल रहा था। 1979 में चेन आगे बढ़ रही थी, तभी विल्सन को दिल का दौरा पड़ा। उन्होंने कंपनी का नेतृत्व छोड़ दिया। अन्य बिजनेस पर ध्यान देने लगे। 88 वर्ष की उम्र में बीमारी की वजह से वे सुस्त पडऩे लगे, लेकिन बिजनेस उसी रफ्तार से आगे बढ़ता रहा।

5 जनवरी 1913 (आज से ठीक 101 साल पहले) जन्मे विल्सन ने सात वर्ष की उम्र में काम करना शुरू कर दिया था। वे अखबार, मैग्ज़ीन और पॉपकॉर्न बेचा करते थे। 17 वर्ष की उम्र में डी. कैमोंस और रूबी डोल विल्सन के इस इकलौते बेटे ने बुक कीपर की नौकरी के लिए आवेदन किया। तनख्वाह थी हफ्ते के 35 डॉलर। उन्हें नौकरी तो मिली लेकिन वेतन दिया गया सिर्फ 12 डॉलर। इतना पैसा तो उन्हें कॉटन ब्रोकर के यहां भी मिल जाता था। विल्सन ने विरोध किया। मालिक ने कहा कि उम्र कम है, इसलिए भुगतान भी कम ही किया जाएगा। विल्सन ने नौकरी छोड़ी और व्यापार करने लगे। इससे मिले पैसे से उन्होंने अपनी मां के लिए घर बनवाया। उन्हें लगा कि अमेरिका में घर बनाना अच्छा बिजनेस है। घर बनाने लगे। होटल का लक्ष्य रखा तो दुनिया की सबसे बड़ी होटल चेन खड़ी कर दी। 12 फरवरी 2003 को उनका निधन हो गया।


फंडा यह है कि...

आप अपना लक्ष्य तय कर उसका पीछा करें। इससे आप ऐसे चमत्कारी आंकड़े तक पहुंच जाएंगे, जो दूसरों के लिए एक अचंभा होगा। 

 

 

 





























Source: Set Your Goals So That You Can Chase It - Management Funda By N Raghuraman - Dainik Bhaskar 5th January 2014