Friday, December 27, 2013

Listen To Your Heart Before Making Big Decisions - Management Funda - N. Raghuraman - 27th December 2013

जिंदगी के बड़े फैसले लेने से पहले एक बार जरूर सुनें दिल की बात


मैनेजमेंट फंडा - एन. रघुरामन   


क्रिसमस के दिन 25 दिसंबर को जैक्स हैंड्री कैलिस डेल स्टेन के साथ सामान्य दिनों की तरह गेंदबाजी का अभ्यास कर रहे थे। उनकी टीम भारत के खिलाफ दूसरा टेस्ट मैच खेलने के लिए तैयार हो रही थी। लेकिन कैलिस का मन जानता था कि इस हफ्ते वे टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे। अपने टेस्ट कॅरिअर को वह उसी मैदान में अलविदा कहेंगे जहां से उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ वर्ष1995-96 में शुरूआत की थी। हालांकि कैलिस वन डे इंटरनेशल खेलेंगे, खासकर वर्ष 2015 में होने वाले वल्र्ड कप तक। क्रिकेट के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर और आज के दौर में दक्षिण अफ्रीका के सबसे महत्वपूर्ण इस खिलाड़ी ने अपनी भावनाओं और शरीर की भाषा को इतना संयत रखा कि कोई यह पता भी नहीं लगा पाया कि बाहर क्या आने वाला है। और जब उन्होंने लंच पर संन्यास की घोषणा की तो पूरी दुनिया हैरान रह गई। 38 वर्ष और 71 दिन के कैलिस ने अगले साल फरवरी में आस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सीरीज से पहले संन्यास लेने की घोषणा की है। इसके साथ उन्होंने, अपने घरेलू मैदान केपटाउन न्यूलैंड्स में एक और मैच खेलकर अवकाश लेने का मौका गवां दिया। टेस्ट मैचों में कैलिस चौथे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। सचिन तेंदुलकर के 51 शतकों के बाद उनके 165 मैचों में बनाए गए 44 शतक दूसरे नंबर पर आते हैं। उन्होंने अपने 18 साल के कॅरिअर में बेहद कुशल गेंदबाजी की बदौलत 292 विकेट भी लिए हैं। कैलिस ने बल्लेबाजी में भी कुशलता की उम्दा मिसाल पेश की है। उन्होंने बल्लेबाजी और गेंदबाजी के बीच पूरा संतुलन बनाए रखा। 

Source: Listen To Your Heart Before Making Big Decisions - Management Funda By N. Raghuraman - Dainik Bhaskar 27th December 2013

टेस्ट कॅरिअर में कैलिस 13,174 रनों के साथ सिर्फ तेंदुलकर, रिकी पोंटिंग और राहुल द्रविड़ से ही पीछे हैं। डरबन के मैच में वे हालांकि राहुल द्रविड़ को पछाड़ सकते हैं। उनका 55.12 रनों का बल्लेबाजी औसत सचिन तेंदुलकर के अलावा टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने प्रमुख नौ खिलाडिय़ों से बेहतर है। रनों के मामले में वह किसी भी दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी से चार हजार रन आगे हैं। गेंदबाजी के मामले में कैलिस को हर टीम के सबसे बेहतर बल्लेबाज के लिए एक मुसीबत माना जाता था। गेंदबाजी और बल्लेबाजी के अलावा फील्डिंग में भी वे बेहतर साबित हुए। कैलिस ने 199 कैच भी पकड़े हैं। इस मामले में वे सिर्फ रिकी पोंटिंग से पीछे हैं। रिकी पोंटिंग ने टेस्ट मैचों में 219 कैच लपके हैं। इस सब चीजों के चलते कैलिस को द. अफ्रीका टीम का ऑल राउंडर खिलाड़ी माना जाता था। उनके रिकॉर्ड्स को देखने के बाद आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि अगर वे सिर्फ ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही मैच खेल लेते तो शायद नए रिकॉर्ड अपने नाम कर सकते थे। जैसे 199 कैच, 200 कैचों में बदल सकते थे, ऐसे ही 292 विकेट 300 हो सकते थे। अभी उनसे तेंदुलकर, पोंटिंग और द्रविड़ ही आगे हैं। सिर्फ 115 रन और बनाकर वे एक पायदान और ऊपर आ सकते हैं। हालांकि उनके लिए भारत के खिलाफ अपने आखिरी टेस्ट में इस आंकड़े को पाना मुश्किल हो सकता है। ऐसा कोई दक्षिण अफ्रीकी नागरिक नहीं है जो यह मानता हो कि उनके बिना देश की टीम नंबर वन बन सकती थी। हर कोई चाहता है कि कैलिस कई पड़ावों को पार करें और क्रिकेट के खेल में आंकड़ों के दीवाने लोगों की भूख को शांत करें। लेकिन कैलिस ने इन नंबरों और आंकड़ों की परवाह किए बिना संन्यास का फैसला लिया।

फंडा यह है कि...

अपने कार्यक्षेत्र में दिए योगदान से आप संतुष्ट हैं तो हर वह निर्णय लेने का अधिकार है जो आपको बेहतर लगे। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि दुनिया आपके बारे में क्या सोचती है। जब भी आप जिंदगी में कोई बड़ा फैसला लें तो अपने दिल की बात सुनें।










































































Source: Listen To Your Heart Before Making Big Decisions - Management Funda By N. Raghuraman - Dainik Bhaskar 27th December 2013